सोशल मीडिया से फेक न्यूज हटाएगा AI, असंख्य गलत खबरों को सात वर्गों में किया गया विभाजित

वर्तमान में सोशल मीडिया में प्रसारित हो रहीं फेक न्यूज एक बड़ी समस्या बनकर सामने आई है। कई देशों की सरकारें इनपर लगाम कसने के लिए कड़े आइटी कानून बना रही हैं। यह फेक न्यूज भारत जैसे विशाल लोकतांत्रिक देश के लिए भी बड़ा खतरा है। वर्तमान में शोधकर्ता एक ऐसे आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) से लैस सिस्टम पर काम कर रहे हैं जो फेक न्यूज पर अपने आप लगाम कस सके। अमेरिका की पेंसिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने एल्गोरिद्म तैयार करने के लिए फेक न्यूज के असंख्य उदाहरणों को सात वर्गो में विभाजित किया है। इसमें गलत समाचार, ध्रुवीकृत सामग्री, व्यंग, गलत बयानबाजी, टिप्पणी, प्रेरक जानकारी और नागरिक पत्रकारिता को शामिल किया गया है। 'अमेरिकन बिहैवियरल साइंटिस्ट' नामक जर्नल में इस अध्ययन को प्रकाशित किया गया है। पेंसिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एस श्याम सुंदर ने बताया कि वर्तमान में सोशल मीडिया के जरिये प्रसारित हो रहीं फेक न्यूज से इस प्लेटफार्म का दुरुपयोग हो रहा है। इस वजह से बहुत से विद्वान इन प्लेटफार्मो से दूर जा रहे हैं।