ब्लैक होल से डरकर आकाशगंगा से भाग रहा तारा, सूर्य से दोगुना विशाल और दस गुना ज्यादा है चमकीला

रहस्यों से भरपूर ब्रह्मांड में एक अनूठी घटना सामने आई है। खगोलविदों को एक ऐसे तारे का पता चला है, जो ब्लैक होल से डरकर हमारी आकाशगंगा से बहुत तेजी से बाहर निकल रहा है। एस5-एचवीएस1 नामक यह तारा हमारी आकाशगंगा के केंद्र से 40 लाख मील प्रति घंटे की रफ्तार से बाहर जा रहा है।यह तारा इस समय धरती से करीब 29 हजार प्रकाश वर्ष दूर है। टिंग ली की अगुआई वाली कार्नेगी ऑब्जरवेटरी के खगोलविदों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम ने इसका पता लगाया है। इस तारे के अध्ययन के लिए वे ऑस्ट्रेलिया में स्थापित सदर्न स्टेलर स्ट्रीम स्पेक्ट्रोस्कोपिक सर्वे टेलीस्कोप का उपयोग कर रहे हैं। ली के अनुसार, यह तारा हमारे सूर्य से दो गुना विशाल होने के साथ ही दस गुना ज्यादा चमकीला भी है। यह तारा अप्रत्याशित गति से गहरे अंतरिक्ष की ओर बढ़ रहा है। ब्लैकहोल का द्रव्यमान सूर्य से 40 लाख गुना